देश

देश की सुरक्षा के लिए खतरा पैदा करने वालों का ‘राम-नाम सत्य’, भारत शरीयत कानून से नहीं चलेगा : CM योगी…

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर उत्तर प्रदेश के कुशीनगर में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक चुनावी सभा को संबोधित किया। इस दौरान सीएम योगी ने केंद्र में मोदी सरकार और अपनी खुद की उपलब्धियां गिनाईं। सीएम ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि देश की सुरक्षा में अगर कोई खतरा बनता है तो उसका राम नाम सत्य है।

सीएम योगी ने प्रदेश की बेहतर शासन व्यवस्था का जिक्र करते हुए कहा कि एक दौर था जब पडरौना में डोल मेला पर सपा की सरकार रोक लगा देती थी। डोल मेला निकालने वाले लोगों को सपा की सरकार जेल में बंद कर देती थी, हम लोगों को इसके लिए लड़ाई लड़नी पड़ी थी। उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि हाटा में हर बार दंगा होता था, लेकिन पिछले सात साल में आपने किसी को दंगा करते हुए देखा है क्या।

उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि प्रदेश में कोई डोल यात्रा रोक पाएगा क्या? आज कोई गोकशी कर सकता है? आज किसी बेटी और व्यापारी की सुरक्षा पर कोई सेंध लगा सकता है? नहीं लगा पाएगा क्योंकि उसे पता है कि अगर वह ऐसा करेगा तो उसे उसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा। उसे मालूम है कि बेटी और व्यापारी की सुरक्षा की कीमत अब जेल नहीं जहन्नुम होता है। उसे मालूम है कि देश की सुरक्षा के लिए खतरा पैदा करने वालों का ‘राम-नाम सत्य है’ की यात्रा भी निकलेगी।

उन्होंने कहा कि देश में एक तरफ विकास के लिए समर्पित भाजपा की सरकार है तो वहीं, दूसरी तरफ बांटो और राज करो वाला कांग्रेस गठबंधन। इसने अपने घोषणापत्र में कहा है कि अगर हम सत्ता में आते हैं तो मुसलमानों को आरक्षण देंगे। बाबा साहब भीमराव अंबेडकर ने कई बार कहा है कि आरक्षण होना चाहिए, लेकिन धर्म के आधार पर आरक्षण नहीं हो सकता। ये लोग पर्सनल लॉ लागू करेंगे, पर्सनल लॉ का मतलब तालिबान शासन, जिसे हम लागू नहीं होने देंगे।

उन्होंने कहा कि भाजपा की घोषणा है कि भारत की व्यवस्था बाबा साहब द्वारा बनाए गए संविधान से चलेगी, किसी शरीयत कानून से नहीं। कांग्रेस और समाजवादी पार्टी अपनी हार सुनिश्चित मानकर लोगों को गुमराह करने का प्रयास कर रहे हैं। इनकी मंशा कभी पूरी नहीं होगी। भारत की जनता बहुत जागरूक है और वह मोदी जी के नेतृत्व में फिर एक बार सरकार बनाएगी और अब तो जनता की ओर से ही आवाज आ रही है कि जो राम को लाए हैं हम उनको लाएंगे और राम भक्त ही राज करेगा दिल्ली के सिंहासन पर। स्वाभाविक रूप से मोदी जी ही परम राम भक्त और परम राष्ट्र भक्त हैं तो मोदी जी के नेतृत्व में एनडीए और भारतीय जनता पार्टी प्रचंड बहुमत से सरकार बनाएगी और इस दिशा में हम आगे बढ़ चुके हैं।

कांग्रेस और इंडी गठबंधन पर प्रहार करते हुए सीएम योगी ने कहा कि संविधान का सबसे ज्यादा मखौल कांग्रेस पार्टी और इंडी गठबंधन से जुड़े लोगों ने उड़ाया है और आज भी वह यही कर रहे हैं। देश के अंदर स्वतंत्र भारत में संविधान बना ही था कि बाबा साहब भीमराव आंबेडकर के विपरीत जाकर तत्कालीन कांग्रेस सरकार ने धारा 370 को देश के संविधान में जबरन डालने का काम किया। कांग्रेस ने संविधान में कितने संशोधन किए यह किसी से छिपा नहीं हैं। कांग्रेस ने अपनी पहली ही सरकार में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को कैद करने का कार्य किया था तो 1975 में इमरजेंसी के माध्यम से संविधान का गला घोंटने का काम भी कांग्रेस ने ही किया था। बाबा साहब भीमराव अंबेडकर बार-बार इस बात को कहते थे कि धर्म के आधार पर आरक्षण नहीं हो सकता।

सीएम योगी ने कांग्रेस समेत उसके गठबंधन के अन्य दलों पर भी आरोप लगाते हुए कहा कि संविधान का सर्वाधिक मजाक कांग्रेस और उसके गठबंधन चाहे वो सपा हो, टीएमसी हो, आरजेडी हो या फिर आम आदमी पार्टी हो, इन सभी ने उड़ाया है और ये लोग आज भी यही कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी ने 2012 और 2014 के इलेक्शन में अपने मेनिफेस्टो में इस बात का उल्लेख किया था कि वह मुसलमानों को भी आरक्षण देगी। उत्तर प्रदेश की पीएसी में 15 फीसदी आरक्षण की घोषणा भी इसी समाजवादी पार्टी ने की थी। सपा का चरित्र जगजाहिर है, इसी तरह आरजेडी में लालू यादव भी बोल चुके हैं कि बिहार के अंदर सभी मुसलमानों को वे आरक्षण का लाभ देंगे। टीएमसी के एक फैसले को कलकत्ता हाईकोर्ट ने अभी पूरी तरह पलटकर वहां की सरकार के मुंह पर तमाचा मारा है और कहा है कि धर्म के आधार पर आरक्षण नहीं हो सकता। कांग्रेस का मेनिफेस्टो कहता है कि यह भारत के अंदर पर्सनल लॉ लागू करेंगे, पर्सनल लॉ लागू करने का मतलब तालिबानी शासन। बेटी स्कूल नहीं जा पाएगी, माताएं, बहनें बाजार और ऑफिस नहीं जा पाएंगी। बुर्का पहनकर घर में दबा रहना पड़ेगा। मोदी जी के नेतृत्व में भाजपा बेटियों के सम्मान और उनकी सुरक्षा के प्रति संकल्पित है। भाजपा ने बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ का नारा दिया है तो मातृ वंदन योजना भी लाए हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Latest News

Latest Post
Latest News
Close