राजनिति

कार्यकर्ताओं के स्वभाव और व्यवहार की निगरानी में जुटी भाजपा

भोपाल
मिशन 2023 की तैयारी में जुटी भाजपा अपने कार्यकर्ताओं को चुनावी तैयारियों से जोड़ने के साथ उनके स्वभाव और व्यवहार की निगरानी रखने की तैयारी में भी जुटी है। प्रदेश संगठन ने इसी के चलते बैठकों के जरिए कार्यकर्ताओं, जनप्रतिनिधियों, पदाधिकारियों को यह संदेश दिया है कि उनका स्वभाव और व्यवहार पार्टी की छवि और भविष्य तय करता है। इसलिए ऐसे कदम न उठाएं जिससे पार्टी की छवि पर असर पड़े।

कार्यकर्ता जनता के बीच पहुंचें तो उन्हें हर वर्ग के लिए शुरू की गई योजनाओं की जानकारी हो ताकि पब्लिक को उसके बारे में अवगत करा सकें। बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने एक माह में किए गए जिलों के प्रवास के जरिये प्रदेश और केंद्र की मंशा से पार्टी के विधायकों सांसदों मोर्चा पदाधिकारियों और प्रदेश पदाधिकारियों को अवगत कराने का काम किया है। उन्होंने कई मौकों पर दल का महत्व बताते हुए कहा कि सफलता से हमारे अंदर घमंड नहीं आना चाहिए क्योंकि घमंड में सत्ता दुरावस्था की ओर जा सकती है। जब कार्यकर्ता हमारे महापुरुषों के जीवन की पृष्ठभूमि में झांकते हैं तो उन्हें राजनीतिक क्षेत्र में काम करने की एक दिशा मिलती है।

हम पार्टी में जिस भी पद पर हैं उसके अनुरूप हमारा व्यवहार भी होना चाहिए।  जब सभी कार्यकर्ता टीम भावना के साथ आगे बढ़ेंगे तो पार्टी का हर अभियान सफल होगा। इससे पार्टी भी मजबूत होगी और हमारा कार्यकर्ता भी मजबूत होगा। उन्होंने कहा है कि हमें राजनीति में सामूहिकता लाने का प्रयास करना चाहिए। सुनने का मानस बनाकर कार्यप्रणाली में सुधार करने का प्रयास भी लगातार करते रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि समाज के विभिन्न क्षेत्रों में सक्रिय, प्रभावी काम करने वाले लोगों को पार्टी से जोड़ने का प्रयास करना चाहिए।

प्रदेश अध्यक्ष ने जिलों में प्रवास के दौरान पार्टी नेताओं और कार्यकतार्ओं की स्वभाव और व्यवहार पर भी निगाह रखने के संकेत दिए हैं। उन्होंने कहा है कि हमारे पदाधिकारी का स्वभाव और व्यवहार पार्टी की छवि निर्माण करने का काम करता है। हमारे पदाधिकारी को समाज के लिए सहज, सुलभ और सरल होना चाहिए।

जिलों में प्रवास के दौरान पार्टी के विस्तार में सभी मोर्चो की भूमिका पर भी चर्चा हुई है। इनसे कहा गया है कि मोर्चा के कार्यकर्ता अपने संबंधित वर्ग को पार्टी से जोड़ने का काम करें। सभी मोर्चा कार्यकतार्ओं को संबंधित वर्ग की सारी जानकारियां होना चाहिए। मोर्चा पदाधिकारियों को उन वर्गों के लिए चलाई जा रही शासकीय योजनाओं का भी पूरा अध्ययन होना चाहिए।

मोर्चा के कार्यकर्ता जब सारी जानकारियों से लैस होकर समाज के बीच में काम करेंगे तो निश्चित ही पार्टी का जनाधार बढेगा।मोर्चा पदाधिकारियों का दायित्व है कि वह इन सभी कामों को जनता के बीच में लेकर जाए और विस्तारक अभियान में भी अपनी भूमिका निभाएं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Latest News

Latest Post
Latest News
Close