राज्य

महंगी लाइफ स्टाइल ने बना दिया चोर, ज्वेलरी दुकानदार निकला सरगना

पटना
पाटलिपुत्र थाने की पुलिस ने राजधानी में सक्रिय एक ऐसे शातिर चोर गिरोह का खुलासा किया है जो अय्याशी व नशे की लत को पूरा करने के लिए रेकी कर बंद घरों व दुकानों में चोरी करता था। पुलिस ने इस गिरोह से जुड़े उस सुनार यानी आभूषण कारोबारी अमित प्रकाश को भी पकड़ा है जो बुद्धा कॉलोनी में विंध्यवासिनी ज्वेलर्स के नाम से गहने की दुकान चलाता था। एएसपी विधि व्यवस्था संजय सिंह ने बताया कि इस गिरोह में सुनार समेत कुल दस शातिर शामिल थे। पकड़े गए आरोपितों में सुनार अमित के अलावा गिरोह का सरगना राजीवनगर रोड नंबर 19 निवासी सुमित कुमार उर्फ कारू, महेशनगर रोड नंबर 3 बी का कुंदन पटेल, दुर्गा चौक का राजवीर उर्फ राजीव, मनी गाछी दरभंगा का कन्हैया कुमार उर्फ पीयूष, पटेलनगर का सूरज कुमार, महेशनगर का गुड्डू कुमार, महेश नगर रोड नंबर 4 का पंकज कुमार, लोदीपुर का मनीष कुमार तथा नार्थ पटेलनगर का रिशु कुमार शामिल हैं। इन आरोपितों की निशानदेही पर पुलिस ने दो मोबाइल, एक लैपटॉप, 10 हजार रुपये नकद, हेड फोन, साउंड बाक्स स्पीकर, सात पीस नोजपिन, एक जोड़ी पायल, तीन पीस कानबाली, दो चांदी की बिछिया बरामद की है। पाटलिपुत्र थाना प्रभारी एसके शाही का दावा है कि इन शातिरों द्वारा रेकी करने के बाद हाल ही में पाटलिपुत्र के उत्तरी पटेलनगर के निकट बाबा चौक निवासी खैबाल डे व राम प्रवेश प्रसाद के घर से चोरी की गई थी। बरामद गहने व सामान इन्हीं दोनों पीड़ितों के घर से चुराए गए थे। बरामद हुए चोरी के गहने पकड़े गए सुनार अमित की दुकान में पाए गए।

बंद मकानों को बनाते थे निशाना

बदमाश रेकी कर बंद घरों को अपना निशाना बनाते थे। वे घरों से नकदी व जेवरात सहित लैपटॉप, मोबाइल व महंगे सामान उड़ा लेते थे। बाद में शातिर गहनों को सुनार अमित प्रकाश को बेच देते थे। डीएसपी विधि-व्यवस्था संजय कुमार ने बताया कि आरोपित दिन में रेकी और रात में चोरी की वारदात को अंजाम देते थे। एएसपी ने बताया कि गिरोह का सरगना सुमित कुमार है। वह पहले जेल भी जा चुका है। सभी नशे की जरूरतों को पूरा करने के लिए वारदात करते थे।

सरगना की निशानदेही पर अन्य चढ़े हत्थे

पटेल नगर में बाबा चौक और रवि चौक इलाके में गत दिनों दो अलग-अलग घरों में चोरियां हुई थीं। पाटलिपुत्र थाना प्रभारी एसके शाही ने छानबीन शुरू की तो पता चला कि दोनों वारदात में एक ही चोर गिरोह का हाथ है। इसके बाद पुलिस ने 15 जनवरी को सरगना सुमित कुमार को गिरफ्तार कर लिया। उसकी निशानदेही पर बाद में अन्य आरोपितों को धर दबोचा गया। पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि वे चोरी के गहने विंध्यवासिनी ज्वेलर्स के मालिक अमित को बेचे हैं। इसके बाद ज्वेलर्स को भी गिरफ्तार कर लिया गया। चोरी के मामले में पकड़े गए आरोपितों को छुड़ाने के लिए रविवार की दोपहर परिजन पाटलिपुत्र थाने पहुंच गए। इसके बाद लोगों ने थाने के गेट पर ही हंगामा शुरू कर दिया। इसमें महिलाएं भी शामिल थीं। भीड़ पुलिस से आरोपितों को छुड़ाने के लिए उतारू हो गई लेकिन पुलिस के आगे उनकी एक नहीं चली। इसके बाद पुलिस ने गिरफ्तार आरोपितों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Latest News

Latest Post
Latest News
Close