राजनीति

NDA संसदीय दल की बैठक : JDU और TDP ने पीएम पद के लिए मोदी के नाम का समर्थन किया…

पुरानी संसद के सेंट्रल हॉल में NDA संसदीय दल की बैठक शुरू हो गई है। JDU और TDP ने पीएम पद के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम का अनुमोदन किया है।

एनडीए संसदीय दल की बैठक में बिहार के मुख्यमंत्री-जदयू प्रमुख नीतीश कुमार ने नरेंद्र मोदी को लोकसभा का नेता, भाजपा और एनडीए संसदीय दल का नेता नामित करने के प्रस्ताव का समर्थन किया।

एनडीए संसदीय दल की बैठक में टीडीपी प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू ने कहा, नरेंद्र मोदी के पास एक विजन और जोश है, उनका क्रियान्वयन बहुत बढ़िया है। वह अपनी सभी नीतियों को सच्ची भावना से क्रियान्वित कर रहे हैं…आज भारत में विकास हो रहा है।” सही नेता – वह नरेंद्र मोदी हैं। यह भारत के लिए बहुत अच्छा अवसर है, अगर आप अभी चूक गए, तो हम हमेशा के लिए चूक जाएंगे।

एनडीए संसदीय दल की बैठक में JD(S) के निर्वाचित सांसद एचडी कुमारस्वामी ने नरेंद्र मोदी को एनडीए संसदीय दल के नेता के रूप में नामित करने के प्रस्ताव का समर्थन किया।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने एनडीए के नेता और पीएम पद के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम का प्रस्ताव रखा है।

एनडीए संसदीय दल की बैठक में भाजपा सांसद राजनाथ सिंह ने कहा “मैं सभी नवनिर्वाचित सांसदों को बधाई देना चाहता हूं…आज, हम एनडीए के नेता का चुनाव करने के लिए मैं यहां हूं। मेरा मानना ​​है कि इन सभी पदों के लिए पीएम नरेंद्र मोदी का नाम सबसे उपयुक्त है।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा ने कहा, “आज भारत पुनः इतिहास रच रहा है कि तीसरी बार लगातार बहुमत के साथ NDA की सरकार आ रही है…हमने ओडिशा में भी अपनी विचारधारा की सरकार बनाई और वहां भी हमें सफलता मिली…10 साल पहले उदासीन भारत था, 10 साल पहले भारत के बारे में कहा जाता था कि यहां कुछ बदलने वाला नहीं है और आज 10 साल बाद पीएम मोदी के नेतृत्व में वही भारत आकांक्षी भारत बन गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एनडीए संसदीय दल की बैठक में शामिल हुए। संविधान सदन (पुरानी संसद) में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव और अन्य एनडीए नेता मौजूद हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को लगातार तीसरी बार एनडीए संसदीय दल के नेता चुने जाएंगे। एनडीए के नेता आज ही राष्ट्रपति भवन जाकर राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के सामने सरकार बनाने का दावा भी पेश करेंगे।

सूत्रों ने बताया कि 9 जून की शाम को शपथ ग्रहण समारोह हो सकता है, हालांकि इसे लेकर अभी औपचारिक घोषणा नहीं की गई है।

बताया जा रहा है कि शपथ ग्रहण समारोह में केंद्र सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ उठाने वाले कई लाभार्थी, ‘विकसित भारत’ के ब्रांड एंबेसडर, सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट में काम कर रहे श्रमिक, वंदे भारत ट्रेन और इस तरह की अन्य कई परियोजनाओं से जुड़े श्रमिक, ट्रांसजेंडर्स, सफाई कर्मचारी, स्वास्थ्य विभाग से जुड़े कर्मचारी भी शामिल हो सकते हैं। नेपाल, भूटान, बांग्लादेश, मालदीव और श्रीलंका सहित कई अन्य देशों के राष्ट्राध्यक्ष और बड़े नेता भी शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हो सकते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Latest News

Latest Post
Latest News
Close