विदेश

ओमिक्रॉन वैरिएंट: तेजी से बढ़ रहा मौतों का आंकड़ा, अमेरिकी अस्पतालों के आईसीयू में 10% से भी कम बिस्तर खाली

वॉशिंगटन
दुनिया में ओमिक्रॉन वैरिएंट के कारण कोरोना के मरीजों की बढ़ती संख्या अब मौतों की संख्या भी बढ़ा रही है। पिछले एक दिन में अमेरिका में 2,140 मौतें हुईं हैं जिनमें से 32 फीसदी की वजह ओमिक्रॉन वैरिएंट रहा है। पूरी दुनिया को देखें तो यह मृत्यु दर 12 फीसदी तक पहुंच गई है। अमेरिका में ओमिक्रॉन के मरीजों से अब आईसीयू भर चुके हैं और वहां 10 फीसदी से भी कम बिस्तर खाली हैं।

दुनिया में शनिवार तक कोरोना संक्रमितों की संख्या 32.45 करोड़ पार कर गई है जबकि 55.49 लाख लोग अपनी जानें गंवा चुके हैं। पिछले एक दिन में दुनिया के भीतर 31.73 लाख नए संक्रमितों की पहचान हुई और 7,629 लोग मौत का शिकार हुए। नए संक्रमितों में अमेरिका शीर्ष स्थान पर बना हुआ है। यहां एक दिन में 2,140 लोग जान गंवा चुके हैं। मृत्यु दर में होने वाली वृद्धि चिंताजनक है।

हालांकि अब तक ओमिक्रॉन को तेजी से बढ़ने वाला लेकिन आईसीयू या मौत तक पहुंचाने की कम आशंका वाला वैरिएंट माना जाता रहा है, लेकिन अमेरिका में यह गंभीर हो चला है। यहां अब कई अस्पतालों के आईसीयू में बिस्तर तक नहीं मिल रहे हैं। अमेरिका में औसतन हर रोज रोगियों में 34 फीसदी वृद्धि हो रही है। दूसरी तरफ, देश में मेडिकल स्टाफ की भी जबरदस्त कमी देखी जा रही है।

कनाडा : संक्रमित 27 लाख से ज्यादा
कनाडा में कोरोना गंभीर होता जा रहा है। यहां पिछले एक दिन में 20,036 नए मामले दर्ज हुए हैं। देश में सबसे अधिक आबादी वाले ओंटारियो प्रांत में 24 घंटे के दौरान 10,964 नए मामले सामने आए, जिनमें से 42 लोगों की मौत हुई है। देश में कुल संक्रमितों की संख्या 27 लाख से ज्यादा पहुंच गई है। ओंटारियो के अस्पतालों में 3,814 लोग एक दिन में भर्ती हुए। दूसरे घनी आबादी वाले क्यूबेक प्रांत में एक दिन में 68 मौतें हुईं।

अमेरिकी नौसेना में धार्मिक रियायतों को मंजूरी
अमेरिकी नौसेना की ‘मरीन कोर’ ने धार्मिक कारणों के आधार पर दो मामलों में कोरोना टीकों से छूट को मंजूरी दी है। अब तक किसी अन्य सैन्य सेवा ने इस तरह की छूट नहीं दी है। मरीन कोर ने कहा, ये पिछले 10 वर्षों में कोर द्वारा स्वीकृत पहली रियायतें हैं। मरीन कोर को अनिवार्य टीकाकरण में धार्मिक आधार पर छूट देने के 3,350 अनुरोध मिले थे।

पृथकवास पांच दिन करना अतार्किक
मेडिकल माइक्रोबायोलॉजिस्ट समूह ने चिंता जताई है कि ब्रिटेन में पृथकवास की अवधि घटाने संबंधी निर्णय को सही ठहराने के लिए बहुत कम वैज्ञानिक प्रमाण हैं। ब्रिटेन में कोविड-19 के लक्षण वाले या संक्रमित लोग 10 दिनों के लिए पृथकवास में रहते थे लेकिन नए ओमिक्रॉन स्वरूप के सामने आने के बाद सरकार ने गृह पृथकवास की अवधि सात दिन कर दी है। ब्रिटिश स्वास्थ्य मंत्री ने कहा है कि कोरोना संक्रमित पाए गए लोगों के लिए अब इंग्लैंड में पृथकवास की अवधि पांच दिनों की होगी।

अमेरिका में रोड आइलैंड निवासी 34 वर्षीय निकोलस अलहवर्डियन को स्कॉटलैंड में कोविड-19 के साथ अस्पताल में भर्ती होने के बाद गिरफ्तार कर लिया गया है। उसने दुष्कर्म और वित्तीय धोखाधड़ी के मुकदमे से बचने के लिए देश से भागने के बाद अपनी ही मौत का नाटक किया था। रोड आइलैंड स्टेट पुलिस के मेजर रॉबर्ट क्रीमर ने बताया कि निकोलस को कोरोना का गंभीर रोग विकसित होने के बाद ग्लासगो के एक अस्पताल में वेंटिलेटर पर जाने के बाद खोजा जा सका।

यूटा काउंटी के अटॉर्नी डेविड लेविट के दफ्तर ने बताया कि अस्पताल कर्मियों ने जांचकर्ताओं द्वारा दी गई तस्वीर के साथ अपने मरीज की तुलना करके उसकी पहचान की पुष्टि की। निकोलस ने 2008 में माइस्पेस पर एक 21 वर्षीय महिला से मुलाकात कर उसका यौन शोषण किया। इसके अलावा वह वित्तीय धोखाधड़ी में भी आरोपी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Latest News

Latest Post
Latest News
Close