छत्तीसगढ़

कक्षा पहली से आठवीं तक की शालाएं रहेंगी बंद, सीमित संख्या में संचालित होंगी नवमीं से 12वीं तक की कक्षाएं

धमतरी
जिले में कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को दृष्टिगत करते हुए कलेक्टर पी.एस. एल्मा के निदेर्शानुसार जिले में स्थित कक्षा पहली से आठवीं तक की कक्षाओं को बंद करने का आदेश जिला शिक्षा अधिकारी श्रीमती रजनी नेल्सन ने दिया है। साथ ही कक्षा नवमीं से 12वीं तक की कक्षाओं का संचालन विद्यार्थियों की एक-तिहाई की उपस्थिति में करने के निर्देश दिए गए हैं।

जिले में स्थित शासकीय, अर्धशासकीय एवं अशासकीय स्कूलों के के संस्था प्रमुखों को जारी किए गए आदेश में जिला शिक्षा अधिकारी ने कहा है कि कोविड-19 के तेजी से बढ़ रहे संक्रमण को नियंत्रण करने के दृष्टिकोण से कक्षा पहली से आठवीं तक संचालित सभी प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालियों को आगामी आदेश तक बंद रखा जाए। साथ ही कक्षा नवमीं से 12वीं (हाई एवं हायर सेकण्डरी स्कूल) तक की शालाओं का एक-तिहाई बच्चों की उपस्थित में संचालन किया जाए। उन्होंने सभी हाई एवं हायर सेकण्डरी स्कूलों में कोविड अनुरूप व्यवहार (विद्यालय की साफ-सफाई, सैनिटाइजेशन व बच्चों एवं स्टाफ को मास्क का अनिवार्य प्रयोग किए जाने, साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग) का कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने कहा है। इसके अलावा शालाओं में अध्ययनरत 15 से 18 वर्ष के विद्यार्थियों का शत-प्रतिशत कोविड टीकाकरण का कार्य आगामी दो दिनों के भीतर पूर्ण करने के भी निर्देश दिए गए हैं। लंबित टीकाकरण की सम्पूर्ण जिम्मेदारी संस्था प्रमुख की होगी। साथ ही पत्र में यह भी उल्लेख किया गया है कि सभी शिक्षकीय/कार्यालयीन स्टाफ के लिए कोविड के द्वितीय डोज टीकाकरण अनिवार्य है। किसी भी स्थिति में कोई भी शिक्षक न छूटे, तत्संबंध में शत-प्रतिशत टीकाकरण सुनिश्चित करते हुए संस्था प्रमुख उक्त आशय का प्रमाण-पत्र कार्यालय में अनिवार्य रूप से प्रस्तुत करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Latest News

Latest Post
Latest News
Close