स्पोर्ट्स

U-19 कैटेगरी में तसनीम मीर ने कर दिया कमाल, सिंधु और साइना ने नहीं हासिल की थी ये उपलब्धि

नई दिल्ली
युवा शटलर तसनीम मीर बुधवार को ताजा बीडब्ल्यूएफ जूनियर रैंकिंग में अंडर-19 लड़कियों के सिंगल में दुनिया की नंबर एक रैंकिंग हासिल करने वाली पहली भारतीय बन गईं हैं। 16 साल की यह खिलाड़ी गुजरात से आती हैं और उन्होंने पिछले साल कमाल का प्रदर्शन किया था। उन्होंने तीन जूनियर इंटरनेशनल टूर्नामेंट में खिताब हासिल किया था। अब उन्होंने रैंकिंग में तीन स्थानों की छलांग लगाते हुए जूनियर वर्ल्ड रैंकिंग में टॉप स्थान हासिल कर लिया।
 
तसनीम ने इस उपलब्धि पर खुशी जताई है लेकिन वे जानती थी ऐसा होगा। इस बारे में वे पीटीआई से बात करते हुए कहती हैं, मैं यह नहीं कहूंगी कि इसकी उम्मीद नहीं थी। फिर भी मैंने सोचा कि मैं नंबर नहीं बन पाउंगी क्योंकि प्रतियोगिता कोविड से प्रभावित हो गई थी लेकिन मैंने बुल्गारिया, फ्रांस और बेल्जियम में तीन इवेंट जीते। इसलिए मैं वास्तव में उत्साहित और खुश हूं कि आखिरकार मैं दुनिया की नंबर एक बन सकी। यह मेरे लिए बहुत अच्छा क्षण है।"

उन्होंने आगे कहा, "मैं अब से पूरी तरह से सीनियर सर्किट पर ध्यान केंद्रित करूंगी और अगले महीने ईरान और युगांडा में खेलने के लिए उत्सुक हूं। मेरा लक्ष्य अब अपनी सीनियर रैंकिंग में सुधार करना है। अगर मैं कुछ अच्छा प्रदर्शन कर सकती हूं और शीर्ष 200 में पहुंच सकती हूं तो साल का अंत बहुत अच्छा होगा।"
 

ध्यान देने वाली बात यह भी है कि दो बार की ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधु और लंदन की कांस्य विजेता साइना नेहवाल समेत किसी भी भारतीय लड़की ने तसनीम का यह कारनामा नहीं किया है।

सिंधु अंडर-19 के दिनों में दुनिया की दूसरे नंबर की खिलाड़ी थीं। बीडब्ल्यूएफ जूनियर रैंकिंग 2011 में शुरू हुई थी। तेलंगाना की एक और भारतीय सामिया इमाद फारूकी करीब आईं, लेकिन दूसरे स्थान पर ही पहुंच सकीं।

तसनीम पिछले साल डेनमार्क में आयोजित थॉमस और उबेर कप में भारत के अभियान का हिस्सा थीं और उनका कहना है कि इसका उनके खेल पर बहुत प्रभाव पड़ा।

तसनीम पिछले चार साल से गुवाहाटी में असम बैडमिंटन अकादमी में इंडोनेशियाई कोच एडविन इरियावान के अंडर में ट्रेनिंग ले रही हैं।
 

तसनीम ने बैडमिंटन का पहला सबक अपने पिता इरफान मीर से प्राप्त किया, जो एक बैडमिंटन कोच हैं और मेहसाणा पुलिस में एएसआई भी हैं।

उन्होंने 14 साल की उम्र में राष्ट्रीय जूनियर चैंपियन (अंडर-19) जीती और अंडर -13, अंडर -15 और अंडर -19 लड़कियों की सिंगल कैटेगरी में नेशनल खिताब का दावा किया।

तसनीम ने 2018 में हैदराबाद और नागपुर में अखिल भारतीय सब-जूनियर रैंकिंग टूर्नामेंट में अंडर -15 सिंगल्स और डबल खिताब भी जीते।

रूस में 2019 विश्व जूनियर चैंपियनशिप में, वह 32 के दौर से आगे नहीं बढ़ सकी, लेकिन उसी साल इंडोनेशिया में एशियाई अंडर -17 और अंडर -15 जूनियर चैंपियनशिप में खिताब जीतकर दमदार वापसी की।

वह काठमांडू में प्रेसिडेंट कप नेपाल जूनियर इंटरनेशनल सीरीज 2020 में भी विजयी हुईं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Latest News

Latest Post
Latest News
Close