देश

किसानों के फर्जी पासपोर्ट बनाकर विदेश भेजने के नाम पर करते थे ठगी

नई दिल्ली
इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट (आइजीआइ) थाना पुलिस ने दो ऐसे एजेंटों को गिरफ्तार किया है, जो किसानों को विदेश भेजने के नाम पर उनसे लाखों की रकम ऐंठकर फर्जी कागजात बनाकर ठगी का शिकार बनाते थे। इनके निशाने पर हरियाणा के कैथल जिले के किसान होते थे। इस मामले में पुलिस ने दो एजेंटों जोगिंदर सुरजीत व एक यात्री कुलदीप को गिरफ्तार किया है। जो¨गदर हरियाणा के कैथल जिला के ढांड तहसील स्थित कौल मोहल्ला मियाका का व सुरजीत कुरुक्षेत्र जिला उस्मानपुर गांव का रहने वाला है। एयरपोर्ट जिला पुलिस उपायुक्त संजय त्यागी ने बताया कि नौ जनवरी को आइजीआइ थाने में ठगी का मामला दर्ज कराया गया। दरअसल, आठ जनवरी की रात को जब टर्मिनल 3 पर इमिग्रेशन विभाग प्रस्थान क्षेत्र में यात्रियों के कागजातों की जांच कर रहे थे, तब कुलदीप सिंह नामक एक यात्री मिला, जिसे दुबई जाना था। इसके कागजात की जांच में पता चला कि इसके पासपोर्ट पर कनाडा का फर्जी वीजा चिपकाया गया है।

आइजीआइ थाना प्रभारी यशपाल सिंह के नेतृत्व में गठित टीम में शामिल सब इंस्पेक्टर सतीश कुमार यादव ने जब यात्री से पूछताछ की तो पता चला कि कनाडा का वीजा उसने जोगिंदर सिंह नामक एक एजेंट से 16 लाख रुपये में इंतजाम करवाया है। यह भी पता चला कि जोगिंदर सिंह कुलदीप के साथ एयरपोर्ट आया है और आसपास ही है। पुलिस ने कुलदीप को गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद पुलिस ने तकनीकी छानबीन की मदद से जो¨गदर को भी एयरपोर्ट से ही गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में पता चला कि जोगिंदर कनाडा का फर्जी वीजा एक अन्य एजेंट सुरजीत व एक अन्य शख्स के साथ मिलकर तैयार करता है। पुलिस ने जो¨गदर को हिरासत में लिया और उससे पूछताछ शुरू की। उससे मिली जानकारी के आधार पर पुलिस ने कैथल व कुरुक्षेत्र इलाके में दबिश देकर सुरजीत को दबोच लिया। वहीं, जहांगीरपुरी इलाके में अवैध पार्किंग पर वर्चस्व को लेकर दो गुटों के बीच सरेआम फायरिंग करने के मामले में पुलिस ने अब तक छह आरोपितों को गिरफ्तार किया है। बता दें, गोली लगने से एक युवक घायल हो गया था। फिलहाल उसकी हालत स्थिर बनी हुई है।

जहांगीरपुरी के सी और एच ब्लाक के बीच स्थित रामलीला ग्राउंड पर अधिकृत पार्किंग थी। लेकिन कुछ समय पहले ठेका खत्म होने के बाद नवीनीकरण नहीं हुआ। लेकिन अवैध तौर पर पार्किंग का शुल्क वसूला जा रहा था। इस पार्किंग को लेकर आकाश और अली के बीच मारपीट होती रही है। इसी क्रम में शुक्रवार देर रात सी ब्लाक में दो गुट एक दूसरे के सामने आ गए। दोनों गुटों में अंधाधुंध फायरिंग हुई। इसमें अली गुट के शहजाद के सिर में गोली लग गई। पुलिस ने राहगीर की शिकायत पर एफआइआर दर्ज कर लिया। एसीपी जहांगीरपुरी तिलक चंद बिष्ट की देखरेख में एसएचओ राजेश कुमार व एसआइ रवि कुमार की टीम ने जांच शुरू की। पुलिस ने आकाश, जमशेद, अविनाश और गोलू और दूसरे गुट के अली और आफनूर को गिरफ्तार कर लिया। घायल शहजाद की आरएमएल अस्पताल में भर्ती है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि अन्य बदमाशों की तलाश में छापेमारी की जा रही है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Latest News

Latest Post
Latest News
Close